स्वस्थ शरीर होना सभी लोगो के लिए ज़रूरी है | सिर्फ़ दिखावा ही नहीं, बल्कि काम करने की क्षमता के लिए वज़न सही होना ज़रूरी है | अगर हड्डियां दिखती हैं, शरीर दुबला पतला है, तो इंसान जल्दी से थक जाता है | इस कारण ज़रूर वजन बढ़ाना चाहिए |
आजकल एक और तो कुछ लोग अपने बढ़ते वज़न से परेशान हो कर वज़न घटाने में लगे हुए हैं, तो दूसरी और कुछ ऐसे लोग भी हैं जो अपने दुबले-पतले शरीर से परेशान हैं, और किसी भी तरह से अपना वज़न बढ़ाना चाहते हैं | वास्तव में जिस प्रकार मोटापे के कारण लोगों के अन्दर हिन् भावना आती है, उसी प्रकार दुबले-पतले लोगों का आत्मविश्वास भी अक्सर कम दिखने लगता है |


दुबलेपन के कारण
अग्निमांद्य या जठराग्नि का मंद होना ही अतिकृशता का प्रमुख कारण है। अग्नि के मंद होने से व्यक्ति अल्प मात्रा में भोजन करता है, जिससे आहार रस या ‘रस धातु का निर्माण भी अल्प मात्रा में होता है। इस कारण आगे बनने वाले अन्य धातु (रक्त, मांस, मेद, अस्थि, मज्जा और शुक्रधातु) भी पोषणाभाव से अत्यंत अल्प मात्रा में रह जाते हैं, जिसके फलस्वरूप व्यक्ति निरंतर कृश से अतिकृश होता जाता है। इसके अतिरिक्त लंघन, अल्प मात्रा में भोजन तथा रूखे अन्नपान का अत्यधिक मात्रा में सेवन करने से भी शरीर की धातुओं का पोषण नहीं होता।


→सप्त धातु औ में कमी के कारण व्यक्ति दुबला हो सकता है।
→पाचन शक्ति में गड़बड़ी के कारण व्यक्ति अधिक दुबला हो सकता है।
→मानसिक, भावनात्मक तनाव, चिंता की वजह से व्यक्ति दुबला हो सकता है।
→यदि शरीर में हार्मोन्स असंतुलित हो जाए तो व्यक्ति दुबला हो सकता है।
→चयापचयी क्रिया में गड़बड़ी हो जाने के कारण व्यक्ति दुबला हो सकता है।
→बहुत अधिक या बहुत ही कम व्यायाम करने से भी व्यक्ति दुबला हो सकता है।
→आंतों में टमवोर्म या अन्य प्रकार के कीड़े हो जाने के कारण भी व्यक्ति को दुबलेपन का रोग हो सकता है।
→मधुमेह, क्षय, अनिद्रा, पुराने दस्त या कब्ज आदि रोग हो जाने के कारण व्यक्ति को दुबलेपन का रोग हो जाता है।
→शरीर में खून की कमी हो जाने के कारण भी दुबलेपन का रोग हो सकता है।


अगर आप प्राकृतिक रूप से weight gain करना चाह्ते हे तो आप आयुर्वेदिक जडीबूटियो का इस्तेमाल कर सकते हैं, जिसका कोई दुष्प्रभाव (साइड इफेक्ट) नहीं होता | इन दवाइयों में शुद्ध जड़ी बूटियों का मिश्रण होता है इसलिए वजन बढाने के लिए आपको अधिक समय लगता है, लेकिन इनका सेवन पूरी तरह सुरक्षित होता हे |


वजन बढ़ाने के लिए कसरत और शारीरिक व्यायाम के साथ अगर अश्वगंधा, कौचा, शतावरी, गोक्सुरा, विदारी, स्वेत मुस्ली जेसी जड़ी बूटियों का सेवन सही मात्रा में करने से शरीर में सप्त धातुओं की कमीपूरी होती हे, शरीर को पोषण मिलता हे जो वजन बढ़ाने के लिए अति लाभदायक हे |
हमने अधिकतर देखा है की लोग तेज़ी से वज़न बढ़ाने के लिए बाज़ार में मिलने वाली अनेक प्रकार की अंग्रेज़ी दवाइयों (टेबलेट,कैप्प्सुल) का इस्तमाल करते हैं | यह अंग्रेज़ी दवाइयां काफी मैहेंगी होती हैं, और साथ ही यह आप के शरीर के लिए भी बेहद हानिकारक होती हैं | यह आपके शरीर को फुला देती हैं, लेकिन अन्दर से आपका शरीर खोखला रैहता है | बाज़ार में आजकल ऐसी अंग्रेज़ी दवाइयों का तेज़ी से व्यापर हो रहा है | यह दवाइयां आपके किडनी, लीवर, और पाचनतंत्र को भी बहुत नुक्सान करती हैं |


हमारे आयुर्वेदिक चिकित्सक ने इन दुर्लभ औषधियों पर आविष्कार करके हर एक औषधियों को सही मात्रा और योग्य स्वरुप में मिश्रित करके अत्यंत असरकार पाउडर “मास बिल्डो पाउडर” का निर्माण किया है | जो की एक nutritional food supplement है | इसमें मौजूद तत्व शरीर की प्रणाली को मज़बूत करते हैं, सप्त धातुओं की कमी पूरी करते हैं, और आपके शरीर को हृष्ट-पुष्ट रखेंगे | यह शक्तिवर्धक weight gain powder हर उम्र के व्यक्ति, वो चाहे महिला हो या पुरुष, सभी के लिए सुविधाजनक और प्रभावकारी है |


“मास बिल्डो पाउडर” से मिलने वाले लाभ:
surpriseआपकी भूख को बढ़ाए |
surpriseशरीर के सातों धातुओं को उचित पोषण देता है जिससे शरीर मज़बूत और गठीला बनता है |
surpriseरक्तादी सप्तधातुओं को बढ़ाकर शरीर को बलवान एवम पुष्ट करता है |
surpriseआपकी त्वचा कांतिमय बनती है ।
surpriseयह प्राकृतिक एवं सुरक्षित हर्बल पाउडर है |
surpriseआंतो में टमवोर्म या अन्य प्रकार के कीड़ों से रक्षा करता है |
surpriseआपके हार्मोन्स के असंतुलन को विनियमित करने के लिए आपकी मदद करता है |
surpriseशरीर में कैल्शियम की कमी नही होती, जिससे हड्डियॉ मज़बूत होती हैं ।
surpriseपाचन सही रखता है, जिससे खाया-पिया शरीर को पूरी तरह से लगता है ।
Dosage: इस मास बिल्डो पाउडर का सुबह शाम हलके गरम दूध में नियमित सेवन करने से आपकी भूख बढ़ेगी, सप्तधातुओं की कमी पूरी होगी और एक फौलादी शक्ति वाले शरीर का निर्माण होगा |


इस पाउडर को लेने के लिए यहाँ ऑनलाइन आवेदन करे |